Introduction

Dr. Raghav Prakash

Director Of Parishkar World

  • परिष्कार कोचिंग इंस्टीट्यूट, बापूनगर, जयपुर का Online Platform है- Parishkar World. Parishkar World द्वारा राजस्थान सरकार एवं भारत सरकार द्वारा जारी होनेवाली Competition परीक्षाएँ जैसे— RAS (Pre. एवं Mains), Police Sub-Inspector, School Lecturer, Head Master, Teacher Grade II & III, Accountant, SSC, LDC, Patwar आदि परिक्षाओं के लिए लेक्चर्स रिकॉर्ड करवाकर Student की Mobile App पर निर्धारित शुल्क पर उपलब्ध करवाते हैं।
  • Parishkar World के व्याख्यानों से देश के दूर-दराज के उन विद्यार्थियों को, विशेष रूप से महिलाओं एवं घर-गृहस्थी वाले उन परीक्षार्थियों को बहुत लाभ होगा जो प्रतिभाशाली और मेहनती तो हैं लेकिन किसी भी कारण से पढ़ने के लिए परिष्कार कोंचिग इंस्टीट्यूट, जयपुर में नहीं आ सकते तथा स्थानीय स्तर पर उत्कृष्ट कोटि के शिक्षक, अध्ययन सामग्री एवं मार्गदर्शन उपलब्ध न होने के कारण प्रतियोगिता परीक्षाओं में सफल नहीं हो पाते हैं।
  • इसका प्रारंभ नवंबर, 2017 में राजस्थान सरकार की REET, Police Constable, PSI, School Lecturer, Teacher Grade II & III, SSC, LDC, LOCO Pilot की परीक्षाओं के पाठ्यक्रमों के लेक्चर online सफलतापर्वूक पहुँचाकर किया जा चुका है तथा उनसे सैंकड़ों विद्यार्थी नौकरी ले चुके हैं।
  • IT के माध्यम से गुणात्मक शिक्षा हर जरूरतमंद विद्यार्थी के पास, कम खर्च में उच्च कोटि के शिक्षकों का गुणवत्तापूर्ण ज्ञान, बहुत शीघ्र पहुँच सके Parishkar World का यही उद्देश्य है।
  • आप घर बैठे सब-कुछ सीख सकते हैं और अपनी गति से धीमे या जल्दी सीख सकते हैं।
  • Mobile App पर ही उपलब्ध टैस्ट सिरीज के द्वारा आप अपने ज्ञान को और मजबूत कर सकते हैं और नौकरी ले सकते हैं।

Vision

  • Online द्वारा सब पढ़ें, अच्छे-से-अच्छा पढ़ें और कम खर्च में पढ़ें।

Mission

  • Online द्वारा सभी लोग शैक्षिक दृष्टि से अधिक सामर्थ्यवान बनें, और इस दुनिया को बेहतर बनाएँ।

Why Parishkar Video Effective?

  • Online द्वारा सभी लोग शैक्षिक दृष्टि से अधिक सामर्थ्यवान बनें, और इस दुनिया को बेहतर बनाएँ
  • परिष्कार के लेक्चर्स भारत सरकार, प्रादेशिक सरकार, NCERT की किताबों तथा प्रत्येक विषय के उच्च स्तरीय विद्वानों की पुस्तकों के आधार पर तैयार किए जाते हैं ताकि परीक्षा में गलत उत्तर न चुनं और यदि गलत Answer Key जारी की गई है तो उसका न्यायालय तक में प्रमाण-सहित विरोध किया जा सके और सही करवाया जा सके।
  • देश-विदेश में online lectures के विभिन्न प्रयोगों का अध्ययन कर, सीखने की दृष्टि से, सर्वाधिक प्रभावशाली तरीकों को अपना कर Parishkar world के लेक्चर्स तैयार किए गए हैं।
  • परिष्कार के लेक्चर्स शिक्षक द्वारा पहले से बनाई हुई PPT के आधार पर तैयार होते हैं इससे—
    • इसमें Visual media की उन समस्त विधियों को सम्मिलित किया जाता है जो समझने एवं याद रखने की दृष्टि से विद्यार्थी के मस्तिष्क को बहुत रोचक ढंग से मदद करती हैं।
    • Teacher का subject matter बहुत अच्छा होता है। वह शिक्षक द्वारा पहले से अच्छी तरह सोच-विचार कर, संशोधित कर, काफी-कुछ पूर्णता के साथ तैयार किया है। वह शिक्षक की केवल मेमोरी पर आधारित नहीं होता, इसलिए subject matter में न गलती रहती है न अधूरापन रहता है।
    • पढ़ाते समय शिक्षक का पूरा ध्यान PPT के matter को समझाने पर रहता है, शिक्षक दर्शक-विद्यार्थी की ओर पीठ नहीं करता, बल्कि विद्यार्थियों की ओर उसका बराबर आई कांटेक्ट रहता है। इसलिए शिक्षक सीखनेवाले से एकाग्रता (Concentration) अधिक करवा लेता है। सीखने की दृष्टि से पढ़ाने का यह तरीका बहुत महत्त्वपूर्ण है।
    • पहले से PPT तैयार करके पढ़ाने से शिक्षक subject matter को याद करने के दबाव से free हो जाता है तथा उसका सारा ध्यान समझाने पर रहता है इसलिए परिष्कार के वीडियोज़ का विद्यार्थी के स्तर पर learning outcome बहुत अधिक रहता है।
    • PPT में चित्र, डाइग्राम, ग्राफ़, फ्लो चार्ट, एनीमेशन आदि visuals का प्रयोग होने से कम समय में अधिक समझा जा सकता है और याद भी पक्का-पक्का रखा जा सकता है।
    • शिक्षक PPT की विषय-वस्तु को समझाने के लिए पेन से जो गोले बनाता है, अंडरलाइन करता है, तुलना करने एवं विश्लेषण करने में जो पेन का इस्तेमाल करता है उससे स्टूडेंट की एकाग्रता और विश्लेषणात्मक (analytical) समझ अधिक मजबूत होती है।
    • PPT के प्रयोग से स्टूडेंट का समय बचता है जो शिक्षक द्वारा बोर्ड पर लिखते रहने में बहुत अधिक खराब होता है। इसलिए Parishkar World के लेक्चर्स में कम समय में अधिक सीखा जा सकता है और बिना ऊबे हुए रोचकता से सीखा जा सकता है।
    • Parishkar world के लेक्चर्स में तथ्यात्मक (factual) की तुलना में अवधारणात्मक (conceptual) बातों पर अधिक समय दिया जाता है, क्योंकि टीचर की भूमिका समझानेवाली बातों में अधिक होती है, तथ्यों को तो विद्यार्थी खुद भी काफी-कुछ तैयार कर सकता है।
    • लेक्चर सुनने के बाद, अपनी शंकाओं का समाधान करने के लिए, प्रश्नों का उत्तर प्राप्त करने के लिए विद्यार्थी info@parishkar.org पर अपना प्रश्न भेज सकते हैं और Parishkar Word से उसका उत्तर भी यथासमय प्राप्त कर सकते हैं।
    • व्याख्यान सुनने के बाद उसे विस्तार से याद करने के लिए, स्वाध्याय (Self-Study) करने हेतु अलग से Parishkar World विस्तृत सामग्री (Detail Notes) PDF के रूप में ऑनलाइन ही उपलब्ध करवाता है जिसकी फोटो कॉफी करके भी उपयोग में लिया जा सकता है। ।